आपने हमारा नया रेडियो देखा?

radio.JPG

इस टूलबार में सबसे ज्यादा जिस चीज को पसंद किया जाता है वह है इसका रेडियो। इसके रेडियो में कुछ बदलाव किये गये हैं। नया रेडियो छोटा है और कम जगह घेरता है। वोल्युम का बटन अब जब आप स्पीकर पर क्लिक करते हैं तो ही दिखता है। अब हमने इसमें हिदी के अलावा कुछ अन्य भारतीय भाषाओं जैसे गुजराती, पंजाबी, तमिल, बांग्ला के चैनल भी जोड़े हैं। कुछ विदेशी इंस्ट्रूमेंटल चैनल भी जुड़े हैं। अब तक इस रेडियो में 90 के करीब चैनल जुड़ चुके हैं। इस रेडियो में आप अपनी पसंद का कोई भी चैनल जोड़ सकते हैं। यहां तक कि आप अपनी हार्ड डिस्क से भी कोई भी mp3 फाइल इस रेडियो में चला सकते हैं।   इस रेडियो में यदि आप भी  अपनी पसंद का कोई चैनल जुड़वाना चाहते हैं अथवा कोई पॉडकास्ट इसमें जुड़्वाना चाहते हैं तो हमें उसका लाइव स्ट्रीम का पता भेजिये हम उसे इस रेडियो में जोड़ देंगे।

नोट: यदि आपको नये डिजाइन का रेडियो अपने टूलबार पर नजर नहीं आ रहा तो कृपया अपने टूलबार को फिर से डाउनलोड करके स्थापित कर लें।


हिंदी टूलबार यहां से डाउनलोड करें



11 comments

फिर से डाउनलोड करना पड़ेगा? :(

करते हैं भाई....

Reply

चलिये फिर से कर लेते हैं जी डाउनलोड.

Reply

विस्टा में इंस्टाल नहीं हो रहा है जी.

Reply

काकेश जी थोड़ा विस्तार से बतायेंगे कि किस तरह की समस्या आ रही है विस्टा में,
और क्या टूलबार का पुराना संस्करण सही काम कर रहा था आपके यहां विस्टा में?

Reply

आपकी मेहनत और चिन्तन से हिन्दी टूलबार दिनोदिन उत्कृष्ट होता जा रहा है। इस टूल को देखकर और उपयोग करके हर हिन्दी-प्रेमी का दिल फूलों नही समाता होगा।

Reply

किन्तु पुराने वाले को हटाना कैसे है? तकनीकी मामला है!! समझना पड़ेगा!

Reply

कविता जी पुराने को हटाने की आवश्यक्ता नहीं है, नया टूलबार अपने आप पुराने को अपडेट कर देगा।

Reply

यह और भी बढ़िया है..

Reply

मैं शुरु से ही यह टूलबार इस्तेमाल करता आ रहा हूं ,बीच मे कुछ दिनों के लिए ब्लॉगवाणी का टूलबार आने पर इस्तेमाल कर देखा लेकिन फ़िर लौट आया हिन्दी टूलबार पर ही क्योंकि इसकी सबसे बड़ी अच्छाई यह लगी कि इसने सभी एग्रीगेटर्स को जगह दी है जबकि ब्लॉगवाणी के टूलबार पर सिर्फ़ ब्लॉगवाणी ही था!!

लेकिन बंधु इस अपडेटेड टुलबार मे हमरे चिट्ठे का लिंक तो है ही नही, ई मेल करना पड़ेगा आपको, सो करते हैं।

पुन: धन्यवाद आपको इतना अच्छा टूलबार बनाने के लिए!

Reply

धन्यवाद संजीत जी,

चिट्ठाजगत पर सभी पंजिकृत चिट्ठे अब इस टूलबार में जुड़े हैं। आपका चिट्ठा भी जुड़ा है इसमें।

Reply

[...] आपने हमारा नया रेडियो देखा? [...]

Reply

Post a Comment